भारी पुलिस व्यवस्था के बीच शुरू हुई महावीर की जनसुनवाई , हो रहा जमकर विरोध, ग्रामीण कह रहे नहीं छीनने देंगे जल जंगल और जमीन

Damrua.com | Chhavi | Dec 08, 2019

महावीर कोलवाशरी की जनसुनवाई का आयोजन पुलिस की चाक-चौबंद व्यवस्था के बीच किया जा रहा है। लेकिन ग्रामीणों की ओर से पहले ही इस जनसुनवाई का विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है और आज जैसे ही जन सुनवाई शुरू हुई वैसे ही जनसुनवाई स्थल पर नारेबाजी के साथ ग्रामीणों ने न केवल महावीर बल्कि बाजू में ही इसे टीआरएन कंपनी का भी जोरदार विरोध शुरू कर दिया।

ग्रामीणों का कहना है कि यह दोनों ही कंपनियां ग्रामीणों की वास्तविक दिनचर्या को बुरी तरह से प्रभावित कर चुकी हैं भारी पर्यावरण प्रदूषण उगल रही इन कंपनियों पर कोई प्रशासनिक अंकुश आज तक नहीं लग सका है । ऐसे में एक बार फिर से महावीर कोल वाशरी के लिए पर्यावरणीय नो-ऑब्जेक्शन लेने जनसुनवाई का आयोजन किया है और हम इस जनसुनवाई का पुरजोर विरोध कर रहे हैं।

न केवल घरघोड़ा ब्लॉक का भेंगारी गांव बल्कि आसपास के दर्जनों गांव के ग्रामीणजन सुनवाई स्तर पर विरोध करने के लिए पहुंचे हुए हैं। टीआरएन और महावीर कंपनी की स्थापना के दौरान ही भोले-भाले ग्रामीणों की जमीन है षडयंत्र करते हुए छीन ली गई है ।इस वजह से दर्जनों मामले पुलिस और एसडीएम कार्यालय में फाइलों के रूप में आज भी धूल खा रहे हैं। अब ग्रामीण न तो अपनी जमीन देना चाहते हैं और ना ही अपने आसपास की आवोहवा को कंपनी के हवाले करना चाहते हैं।